Home शायरीIntezaar Shayari intezaar shayari in hindi | दिल छू लेने वाली इंतज़ार शायरी

intezaar shayari in hindi | दिल छू लेने वाली इंतज़ार शायरी

by piyush Hindustani
इंतज़ार शायरी | intezaar shayari

intezaar shayari in hindi: “इंतज़ार…” शायद प्यार करने वालों के लिए दुनिया का सबसे मुश्किल शब्द। जब भी कभी प्यार में दूरिया बढ़ जाती है या आपका चाहने वाला कही दूर चला जाता है तो आँखे उसके इंतज़ार में एकटक उसकी राह देखतीं है और उसके आने का इंतज़ार करते हुए इंतज़ार शायरी गुनगुनाती है।

जब भी हम किसी का इंतज़ार करते है तो दिन और रातें काफी बड़ी लगाने लगाती है और इन्हे कटना बड़ा मुश्किल हो जाता है। दिन तो चलो किसी तरह काट भी जाता है पर रातें कटना किसी पहाड़ से कम नहीं लगता। इसलिए रातों को हर इंतज़ार करने वाला अपने प्यार की याद में intezaar shayari in hindi गुनगुनाता है।

intezaar shayari in hindi की खाश बात ये होती है की ये आपके दिल की बात आपके चाहने वाले तक बड़ी आसानी से कम शब्दों में पंहुचा देती है और intezaar shayari को पढ़ कर आपके भी दिल को सुकून मिलता है और अपने प्यार के लिए इंतज़ार करने का हौसला भी मिलता है।

आप सभी प्यार में इंतज़ार करने वालो के लिए हिंदी हैं हम (hindi hain hum) लाया है intezar poetry, waiting shayari, intezaar status in hindi और intezaar shayari in hindi का एक दिल को छू लेने वाली इंतज़ार शायरी कलेक्शन जो आपको बेहद पसंद आएगा और आप इसे अपना intezaar status लगाकर अपने दिल की बात अपने चाहने वाले तक जरूर पहुचायेंगे।

 


intezaar shayari

intezaar shayari

intezaar shayari


 

देर रात तक दहलीज़ पर तेरी बैठी रहीं आँखें,
जब आना था तो कोई ख्वाब ही भेज दिया होता।

der raat tak dahaliz par teri baithi rahin aankhen,
jab aana tha to koi khvaab hi bhej diya hota.

 


 

तेरे इश्क़ की आग मेरे दिल को
आज भी खूब जलाया करती है,
जुदा हो गए तो क्या हुआ ये आँख
आज भी तुम्हारा इंतज़ार करती है।

tere ishq ki aag mere dil ko
aaj bhi khub jalaaya karati hai,
juda ho gae to kya hua ye aankh
aaj bhi tumhaara intazaar karati hai.

 


 

किन लफ्जों में लिखूँ अपने इन्तजार को मैं,
मेरा बेजुबां इश्क़ तुझे बड़ी खामोशी से ढूँढता है।

kin laphjon mein likhun apane intajaar ko main,
mera bejubaan ishq tujhe badi khaamoshi se dhundhata hai.

 


intezar poetry


 

मुझे तो अब ख्वाब में भी नींद नहीं आती है,
दिल हैरत में है कि ये मुझे किसका इंतज़ार है।

mujhe to ab khvaab mein bhi nind nahin aati hai,
dil hairat mein hai ki ye mujhe kisaka intazaar hai.

 


 

हर शाम इंतज़ार रहता है तेरा,
रातें कटती हैं ले-ले कर नाम तेरा,
हम कबसे बैठे हैं ये आस पाले,
कभी न कभी तो आएगा कोई पैगाम तेरा।

har shaam intazaar rahata hai tera,
raaten katati hain le-le kar naam tera,
ham kabase baithe hain ye aas paale,
kabhi na kabhi to aaega koi paigaam tera.

 


 

हम चाँद की तरह तन्हा सफ़र करते रहे,
तुम तारों की तरह रात भर चमकते रहे।

ham chaand ki tarah tanha safar karate rahe,
tum taaron ki tarah raat bhar chamakate rahe.

 


intezaar shayari in hindi

intezaar shayari in hindi

intezaar shayari in hindi


 

मेरे दिल में फिर कोई दूसरा कभी नहीं आया,
मुझे भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का।

mere dil mein phir koi dusara kabhi nahin aaya,
mujhe bharosa hi kuchh aisa tha tumhaare laut aane ka.

 


 

मेरी आँखें भी अब मेरी पलकों से सवाल करती हैं,
ये हर वक़्त सिर्फ और सिर्फ आपको ही याद करती हैं,
ये बड़ी गुस्ताख़ हैं जब तक देख न लें चेहरा आपका,
राहों में एक ताक बस आपका ही इंतज़ार करती हैं।

meri aankhen bhi ab meri palakon se savaal karati hain,
ye har vaqt sirph aur sirph aapako hi yaad karati hain,
ye badi gustaakh hain jab tak dekh na len chehara aapaka,
raahon mein ek taak bas aapaka hi intazaar karati hain.

 


 

तुम मेरे बीते वक़्त थे तुम्हें आना ही नहीं था,
हम तो यूँ ही सारी रात करबटें बदलते रहे।

tum mere bite vaqt the tumhen aana hi nahin tha,
ham to yun hi saari raat karabaten badalate rahe.

 


waiting shayari


 

पता नहीं इंतज़ार रात का था या तुम्हारा था,
मैंने राहों में दिया जलाया भी और बुझाया भी।

pata nahin intazaar raat ka tha ya tumhaara tha,
mainne raahon mein diya jalaaya bhi aur bujhaaya bhi.

 


 

मैंने कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ नहीं देखा,
तुम्हारे बाद हमने किसी की तरफ नहीं देखा,
मुझे यही सोच कर तेरा इंतजार है ऐ जालिम,
इसलिए तमाम उम्र हमने घडी की तरफ नहीं देखा ।

mainne kabhi khushi se khushi ki taraph nahin dekha,
tumhaare baad hamane kisi ki taraph nahin dekha,
mujhe yahi soch kar tera intajaar hai ai jaalim,
isalie tamaam umr hamane ghadi ki taraph nahin dekha .

 


 

ये जिन्दगी किश्तों में खुदकुशी कर रही है,
और इंतज़ार तेरा मुझे पूरा मरने भी नहीं देता ।

ye jindagi kishton mein khudakushi kar rahi hai,
aur intazaar tera mujhe pura marane bhi nahin deta .

 


shayari on intezar

shayari on intezar

shayari on intezar


 

पलकें बिछाओ या दिल जलाओ किसी के इंतज़ार में,
वक़्त से पहले कभी नहीं आते वापस आने वाले।

palaken bichhao ya dil jalao kisi ke intazaar mein,
vaqt se pahale kabhi nahin aate vaapas aane vaale.

 


 

हमें कोई मिलता ही नहीं हमारा बनकर,
तुम मिले भी तो सिर्फ एक किनारा बनकर,
मेरा हर ख्वाब टूट के बिखर गया काँच की तरह,
तुम्हारा इंतज़ार है अब तो आ जाओ सहारा बनकर।

hamen koi milata hi nahin hamaara banakar,
tum mile bhi to sirph ek kinaara banakar,
mera har khvaab tut ke bikhar gaya kaanch ki tarah,
tumhaara intazaar hai ab to aa jao sahaara banakar.

 


 

गलत किया कि तेरे वादे पर ऐतबार किया ,
तेरे बाद तो मैंने क़यामत का इंतज़ार किया।

galat kiya ki tere vaade par aitabaar kiya ,
tere baad to mainne qayaamat ka intazaar kiya.

 


intezaar quotes


 

मेरा संदेसा उन तक पंहुचा कर कहना,
कि तुम्हें देखने को मेरी आँखें तरस गयीं।

mera sandesa un tak panhucha kar kahana,
ki tumhen dekhane ko meri aankhen taras gayin.

 


 

हमे वफ़ा में अब ये हुनर तैयार करना है,
वो कुछ भी कहें हमें बस ऐतबार करना है,
और तुम्हें जागने का शौक कब से हो गया,
खैर मुझे तो बस तेरा ही इंतज़ार करना है ।

hame vafa mein ab ye hunar taiyaar karana hai,
vo kuchh bhi kahen hamen bas aitabaar karana hai,
aur tumhen jaagane ka shauk kab se ho gaya,
khair mujhe to bas tera hi intazaar karana hai .

 


 

अब चले भी आओ इस दिल में मेहमान बनकर,
इतना भी ना कराओ इंतज़ार अनजान बनकर।

ab chale bhi aao is dil mein mehamaan banakar,
itana bhi na karao intazaar anajaan banakar.

 


intezaar status

intezaar status

intezaar status


 

अब मुझे नींद आए भी तो कैसे उनके इंतज़ार में,
वो आने का वादा कर गये आकर के ख्वाब में।

ab mujhe nind aae bhi to kaise unake intazaar mein,
vo aane ka vaada kar gaye aakar ke khvaab mein.

 


 

हम तो जीने की ख्वाहिश में हर रोज़ मरते हैं,
वो आये या ना आये हम तो इंतज़ार करते हैं,
ये झूठा ही सही पर मेरे यार का वादा है मुझसे,
उस वादे को सच मान कर हम ऐतबार करते हैं ।

ham to jine ki khvaahish mein har roz marate hain,
vo aaye ya na aaye ham to intazaar karate hain,
ye jhutha hi sahi par mere yaar ka vaada hai mujhase,
us vaade ko sach maan kar ham aitabaar karate hain .

 


 

कोई शाम आपकी याद लेकर तो कोई देकर जाती है,
हमें उस शाम का इंतज़ार है जो आपको अपने साथ लेकर आये।

koi shaam aapaki yaad lekar to koi dekar jaati hai,
hamen us shaam ka intazaar hai jo aapako apane saath lekar aaye.

 


intezaar status in hindi


 

मुझे इंतजार तो बस उस दिन का है,
जिस दिन तुम्हारे नाम के साथ मेरा नाम आएगा।

mujhe intajaar to bas us din ka hai,
jis din tumhaare naam ke saath mera naam aaega.

 


 

हम उसकी आवाज़ सुनने के लिए बेकरार रहते हैं,
इसी को इस दुनिया में शायद प्यार कहते हैं,
जब काटने से भी नहीं कटता ये तन्हा वक्त,
शायद इसी को मोहब्बत में इंतज़ार कहते हैं।

ham usaki aavaaz sunane ke lie bekaraar rahate hain,
isi ko is duniya mein shaayad pyaar kahate hain,
jab kaatane se bhi nahin katata ye tanha waqt,
shaayad isi ko mohabbat mein intazaar kahate hain.

 


 

मैंने आँखों को इंतज़ार की भट्टी पे रख दिया,
मैंने दिये को तेज आँधिओं की मर्ज़ी पर रख दिया।

mainne aankhon ko intazaar ki bhatti pe rakh diya,
mainne diye ko tej aandhion ki marzi par rakh diya.

 


intezaar quotes in hindi

intezaar quotes in hindi

intezaar quotes in hindi


 

कई रोज़ तक तो ये आलम रहा तेरे इंतज़ार का,
जिधर आँख उठ गई बस उधर एक टक देखते रहे।

kai roz tak to ye aalam raha tere intazaar ka,
jidhar aankh uth gai bas udhar ek tak dekhate rahe.

 


 

एक बार तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तब पता चलेगा कि इंतजार क्या होता है?
जब यूं ही मिल जाए कोई बिना चाहे किसी को,
तब कैसे पता चलेगा कि प्यार क्या होता है।

ek baar tadap ke dekho kisi ki chaahat mein,
tab pata chalega ki intajaar kya hota hai?
jab yun hi mil jae koi bina chaahe kisi ko,
tab kaise pata chalega ki pyaar kya hota hai.

 


 

देखना एक दिन मेरा इंतज़ार रंग लाएगा ज़रूर,
एक दिन वो मुझसे मिलाने लौटकर आएगा ज़रूर।

dekhana ek din mera intazaar rang laega zarur,
ek din vo mujhase milaane lautakar aaega zarur.

 


इंतज़ार शायरी | intezaar shayari

इंतज़ार शायरी | intezaar shayari

इंतज़ार शायरी | intezaar shayari


Here is hindi hain hum collection of hindi intezaar shayari, 2 line intezaar shayari, intezar ki shayari, intezar shayari urdu, tera intezaar shayari, intezar gud night shayari, intezar par shayari, intezar shayari hindi, intezaar love shayari, intezaar shayari in english, intezar shayari in urdu, intezar status in hindi 2 line and many more.

gulzar shayari in hindi | गुलजार साहब की 100 सबसे बेहतरीन शायरी
Best Bewafa Shayari in Hindi | बेवफा शायरी कलेक्शन
PYAR WALI SHAYARI | प्यार वाली शायरी जो दिल को छू जाए
जिंदगी पर लिखे गुलज़ार साहब के सबसे बेहतरीन शेर | Zindagi Shayari | Gulzaar shayari | Gulzar Poetry

 

You may also like