Home शायरीTwo Line Shayari Best Hindi Shayari of the World | दुनिया के 51 बेहतरीन शेर | Latest Hindi Whatsapp status

Best Hindi Shayari of the World | दुनिया के 51 बेहतरीन शेर | Latest Hindi Whatsapp status

by piyush Hindustani
best hindi shayari

हिंदी शायरी का चलन काफी तेजी से बढ़ रहा है लोग हर छोटी से छोटी बात को सेलेब्रेट करने के लिए Best Hindi Shayari का स्तेमाल करते है। Hindi Shayari हर तरह के जस्बात को व्यक्त करने का एक बहुत ही अच्छा और सटीक माद्यम होता है। इसलिए हम आपके लिए लेकर आये है Best Hindi Shayari का एक शानदार कलेक्शन जो आपको काफी पसंद आएगा।

 

Latest WhatsApp status on LockDown | Best Hindi Shayari

 

ये जो मिलाते फिरते हो तुम हर किसी से हाथ
ऐसा न हो कि धोना पड़े ज़िंदगी से हाथ
~ जावेद सबा

ye jo milaate phirate ho tum har kisee se haath
aisa na ho ki dhona pade zindagee se haath
~ jaaved saba

????????????????????????????

इस सफ़र में नींद ऐसी खो गई
हम न सोए रात थक कर सो गई
~ राही मासूम रज़ा

is safar mein neend aisee kho gaee
ham na soe raat thak kar so gaee
~ raahee maasoom raza

????????????????????????????

इक तमन्ना है कि अब मैं रूठूँ
और वो मुझ को मनाने आए
~ अमीता परसुराम मीता

ik tamanna hai ki ab main roothoon
aur vo mujh ko manaane aae
~ ameeta parasuraam meeta

????????????????????????????

न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है
दिया जल रहा है हवा चल रही है
~ ख़ुमार बाराबंकवी

na haara hai ishq aur na duniya thakee hai
diya jal raha hai hava chal rahee hai
~ khumaar baaraabankavee

????????????????????????????

ये वक़्त जो तेरा है ये वक़्त जो मेरा है
हर गाम पे पहरा है फिर भी इसे खोना है
~ निदा फ़ाज़ली

ye vaqt jo tera hai ye vaqt jo mera hai
har gaam pe pahara hai phir bhee ise khona hai
~ nida faazalee

????????????????????????????

रात के बाद नए दिन की सहर आएगी
दिन नहीं बदलेगा तारीख़ बदल जाएगी

raat ke baad nae din kee sahar aaegee
din nahin badalega taareekh badal jaegee

????????????????????????????

देख कर इंसान की बेचारगी
शाम से पहले परिंदे सो गए
~ इफ़्फ़त ज़र्रीं

dekh kar insaan kee bechaaragee
shaam se pahale parinde so gae
~ iffat zarreen

????????????????????????????

सब का ख़ुशी से फ़ासला एक क़दम है
हर घर में बस एक ही कमरा कम है
~ जावेद अख़्तर

sab ka khushee se faasala ek qadam hai
har ghar mein bas ek hee kamara kam hai
~ jaaved akhtar

????????????????????????????

घास की तरह पड़े हैं हम लोग
न बुलंदी है न गहराई है
~ फ़रहत एहसास

ghaas kee tarah pade hain ham log
na bulandee hai na gaharaee hai
~ farahat ehasaas

????????????????????????????

 

Best WhatsApp Facebook Status in Hindi

 

आज की रात उजाले मिरे हम-साया हैं
आज की रात जो सो लूँ तो नया हो जाऊँ
~ नसीर तुराबी

aaj kee raat ujaale mire ham-saaya hain
aaj kee raat jo so loon to naya ho jaoon
~ naseer turaabee

????????????????????????????

बाहर ही छोड़ आए वो चेहरा जो ख़ास था
इक आम आदमी की तरह घर में रह गए
~ रऊफ़ ख़ैर

baahar hee chhod aae vo chehara jo khaas tha
ik aam aadamee kee tarah ghar mein rah gae
~ raoof khair

????????????????????????????

तन्हा चलने वालों को ये
राहें पागल कर देती हैं
~ नून मीम दनिश

tanha chalane vaalon ko ye
raahen paagal kar detee hain
~ noon meem danish

????????????????????????????

कभी दिमाग़ कभी दिल कभी नज़र में रहो
ये सब तुम्हारे ही घर हैं किसी भी घर में रहो
~ राहत इंदौरी

kabhee dimaag kabhee dil kabhee nazar mein raho
ye sab tumhaare hee ghar hain kisee bhee ghar mein raho
~ raahat indauree

????????????????????????????

हर पत्ती बोझल हो के गिरी
सब शाख़ें झुक कर टूट गईं
उस बारिश ही से फ़स्ल उजड़ी
जिस बारिश से तय्यार हुई
~ महशर बदायुनी

har pattee bojhal ho ke giree
sab shaakhen jhuk kar toot gaeen
us baarish hee se fasl ujadee
jis baarish se tayyaar huee
~ mahashar badaayunee

????????????????????????????

भँवर से लड़ो तुंद लहरों से उलझो
कहाँ तक चलोगे किनारे किनारे
~ रज़ा हमदानी

bhanvar se lado tund laharon se ulajho
kahaan tak chaloge kinaare kinaare
~ raza hamadaanee

????????????????????????????

घर की तन्हाई में अपने-आप से हम
बन कर इक दीवार उलझने लगते हैं
~ भारत भूषण पन्त

ghar kee tanhaee mein apane-aap se ham
ban kar ik deevaar ulajhane lagate hain
~ bhaarat bhooshan pant

 

Motivational Hindi WhatsApp Status | Two Line Shayari | 2 Line WhatsApp Status | World Best Hindi Shayari | Latest Hindi 2 Liners | Motivational Hindi Shayari

Hindi hain Hum

Hindi Hain Hum | Two line Shayari

 

तर-दामनी पे शैख़ हमारी न जाइयो
दामन निचोड़ दें तो फ़रिश्ते वज़ू करें
~ ख़्वाजा मीर दर्द

tar-daamanee pe shaikh hamaaree na jaiyo
daaman nichod den to farishte vazoo karen
~ khvaaja meer dard

????????????????????????????

दर्द हल्का है साँस भारी है
जिए जाने की रस्म जारी है
~ गुलज़ार

dard halka hai saans bhaaree hai
jie jaane kee rasm jaaree hai
~ gulazaar

????????????????????????????

रात तो ख़ैर किसी तरह से कट जाएगी
रात के बाद कई कोस कड़े और भी हैं
~ ख़लील-उर-रहमान आज़मी

raat to khair kisee tarah se kat jaegee
raat ke baad kaee kos kade aur bhee hain
~ khaleel-ur-rahamaan aazamee

????????????????????????????

आसमानों पर भी हैं चर्चे हुस्न-ए-आलमगीर के
चाँद ने भी रंग उड़ाए चाँद सी तस्वीर के
~ वसीम ख़ैराबादी

aasamaanon par bhee hain charche husn-e-aalamageer ke
chaand ne bhee rang udae chaand see tasveer ke
~ vaseem khairaabaadee

????????????????????????????

शाम होते ही खुली सड़कों की याद आती है
सोचता रोज़ हूँ मैं घर से नहीं निकलूँगा
~ शहरयार

shaam hote hee khulee sadakon kee yaad aatee hai
sochata roz hoon main ghar se nahin nikaloonga
~ shaharayaar

????????????????????????????

यहाँ अपनी पड़ी है, तुझ से ऐ ग़म-ख़्वार क्या उलझूँ
ये कौन आराम है मर जाऊँ तब आराम आएगा
~ शाद अज़ीमाबादी

yahaan apanee padee hai, tujh se ai gam-khvaar kya ulajhoon
ye kaun aaraam hai mar jaoon tab aaraam aaega
~ shaad azeemaabaadee

????????????????????????????

निकाल लाया हूँ एक पिंजरे से इक परिंदा
अब इस परिंदे के दिल से पिंजरा निकालना है
~ उमैर नजमी

nikaal laaya hoon ek pinjare se ik parinda
ab is parinde ke dil se pinjara nikaalana hai
~ umair najamee

????????????????????????????

रात और रात में गूँजती एक बात
एक ख़ौफ़, इक मुंडेर, इक दिया और मैं
~ इफ़्तिख़ार मुग़ल

raat aur raat mein goonjatee ek baat
ek khauf, ik munder, ik diya aur main
~ iftikhaar mugal

????????????????????????????

मैं ने कितने रस्ते बदले लेकिन हर रस्ते में ‘फ़रोग़’
एक अंधेरा साथ रहा है रौशनियों के हुजूम लिए
~ रईस फ़रोग़

main ne kitane raste badale lekin har raste mein farog
ek andhera saath raha hai raushaniyon ke hujoom lie
~ raees farog

????????????????????????????

 

Best Shayari in Hindi | Latest Hindi Whatsapp status

 

ये सर्द रात ये आवारगी ये नींद का बोझ।
हम अपने शहर में होते तो घर चले जाते।।
उम्मीद फ़ाज़ली

ye sard raat ye aavaaragee ye neend ka bojh.
ham apane shahar mein hote to ghar chale jaate..
ummeed faazalee

????????????????????????????

शाम ढलने से फ़क़त शाम नहीं ढलती है
उम्र ढल जाती है जल्दी पलट आना मिरे दोस्त
~ अशफ़ाक़ नासिर

shaam dhalane se faqat shaam nahin dhalatee hai
umr dhal jaatee hai jaldee palat aana mire dost
~ ashafaaq naasir

????????????????????????????

मुझ को किसी की बात की पर्वा नहीं अभी
मैं जी रहा हूँ शहर में तन्हा तो क्या हुआ
~ हसीर नूरी

mujh ko kisee kee baat kee parva nahin abhee
main jee raha hoon shahar mein tanha to kya hua
~ haseer nooree

????????????????????????????

नहीं दुनिया को जब पर्वा हमारी
तो फिर दुनिया की पर्वा क्यूँ करें हम
~ जौन एलिया

nahin duniya ko jab parva hamaaree
to phir duniya kee parva kyoon karen ham
~ jaun eliya

????????????????????????????

लफ़्ज़ ओ मंज़र में मआनी को टटोला न करो
होश वाले हो तो हर बात को समझा न करो
~ महमूद अयाज़

lafz o manzar mein maaanee ko tatola na karo
hosh vaale ho to har baat ko samajha na karo
~ mahamood ayaaz

????????????????????????????

वफ़ा करेंगे निबाहेंगे बात मानेंगे
तुम्हें भी याद है कुछ ये कलाम किस का था
~ दाग़ देहलवी

vafa karenge nibaahenge baat maanenge
tumhen bhee yaad hai kuchh ye kalaam kis ka tha
~ daag dehalavee

????????????????????????????

हम ने दुनिया का बहुत साथ दिया है अब तक
काश इक बार कभी साथ हम अपना देते
~ अतहर शकील

ham ne duniya ka bahut saath diya hai ab tak
kaash ik baar kabhee saath ham apana dete
~ atahar shakeel


Zindagi Shayari | Shayari on Life 

Zindagi WhatApp Status | Facebook Status on Zindagi | Zindagi Ki Shayari | Corona  Shayari Hindi | Corona WhatApp Status

Hindi Hain Hum

Hindi Hain Hum


थकना भी लाज़मी था कुछ काम करते करते
कुछ और थक गया हूँ आराम करते करते
~ ज़फ़र इक़बाल

thakana bhee laazamee tha kuchh kaam karate karate
kuchh aur thak gaya hoon aaraam karate karate
~ zafar iqabaal

????????????????????????????

अब तो घबरा के ये कहते हैं कि मर जाएँगे
मर के भी चैन न पाया तो किधर जाएँगे
~ शेख़ इब्राहीम ज़ौक़

ab to ghabara ke ye kahate hain ki mar jaenge
mar ke bhee chain na paaya to kidhar jaenge
~ shekh ibraaheem zauq

????????????????????????????

माज़ी की आँखों में झाँक के देखूँ तो
कुछ चेहरे हर बार उलझने लगते हैं
कुछ ख़बरों से इतनी वहशत होती है
हाथों से अख़बार उलझने लगते हैं

maazee kee aankhon mein jhaank ke dekhoon to
kuchh chehare har baar ulajhane lagate hain
kuchh khabaron se itanee vahashat hotee hai
haathon se akhabaar ulajhane lagate hain

????????????????????????????

इश्क़ करो आराम नहीं आए तो कहना
ये बीमारी सबको अच्छा कर देती है
~शारिक़ कैफ़ी

ishq karo aaraam nahin aae to kahana
ye beemaaree sabako achchha kar detee hai
~shaariq kaifee

????????????????????????????

हम लबों से कह न पाए उन से हाल-ए-दिल कभी
और वो समझे नहीं ये ख़ामुशी क्या चीज़ है
~ निदा फ़ाज़ली

ham labon se kah na pae un se haal-e-dil kabhee
aur vo samajhe nahin ye khaamushee kya cheez hai
~ nida faazalee

????????????????????????????

बाहर कोई गलियों में बहुत चीख़ रहा था
शायद मेरी तन्हाई मुझे ढूँढ रही थी
~ फ़ैसल फेहमी

baahar koee galiyon mein bahut cheekh raha tha
shaayad meree tanhaee mujhe dhoondh rahee thee
~ faisal phehamee

????????????????????????????

अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का
बस इक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का
~ अरशद अली ख़ान क़लक़

ada se dekh lo jaata rahe gila dil ka
bas ik nigaah pe thahara hai faisala dil ka
~ arashad alee khaan qalaq

????????????????????????????

दिल आबाद कहाँ रह पाए उस की याद भुला देने से
कमरा वीराँ हो जाता है इक तस्वीर हटा देने से
~ जलील ’आली’

dil aabaad kahaan rah pae us kee yaad bhula dene se
kamara veeraan ho jaata hai ik tasveer hata dene se
~ jaleel ’aalee’

????????????????????????????

कितनी मुश्किल के बाद टूटा है
इक रिश्ता कभी जो था ही नहीं
~ शाहबाज़ रिज़्वी

kitanee mushkil ke baad toota hai
ik rishta kabhee jo tha hee nahin
~ shaahabaaz rizvee

????????????????????????????

बात ये है कि बात कोई नहीं
मैं अकेला हूँ साथ कोई नहीं
~ नईम रज़ा भट्टी

baat ye hai ki baat koee nahin
main akela hoon saath koee nahin
~ naeem raza bhattee

????????????????????????????

 

hindi Shayari | हिंदी शायरी

best hindi shayari

best hindi shayari

 

अकेला था किसे आवाज़ देता
उतरती रात से तन्हा लड़ा मैं
~ मोहम्मद अल्वी

akela tha kise aavaaz deta
utaratee raat se tanha lada main
~ mohammad alvee

????????????????????????????

सुन तो सही जहाँ में है तेरा फ़साना क्या
कहती है तुझ को ख़ल्क़-ए-ख़ुदा ग़ाएबाना क्या
~ हैदर अली आतिश

sun to sahee jahaan mein hai tera fasaana kya
kahatee hai tujh ko khalq-e-khuda gaebaana kya
~ haidar alee aatish

????????????????????????????

ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है
ऐसी तन्हाई कि मर जाने को जी चाहता है
~ इफ़्तिख़ार आरिफ़

khvaab kee tarah bikhar jaane ko jee chaahata hai
aisee tanhaee ki mar jaane ko jee chaahata hai
~ iftikhaar aarif

????????????????????????????

आज से हम भी अकेले हो गए इस भीड़ में
ध्यान में था जो भरा सा आसमाँ ख़ाली हुआ
~ शहराम सर्मदी

aaj se ham bhee akele ho gae is bheed mein
dhyaan mein tha jo bhara sa aasamaan khaalee hua
~ shaharaam sarmadee

????????????????????????????

कैसा लम्हा आन पड़ा है
हँसता घर वीरान पड़ा है
लोग चले हैं सहराओं को
और नगर सुनसान पड़ा है
~ बक़ा बलूच

kaisa lamha aan pada hai
hansata ghar veeraan pada hai
log chale hain saharaon ko
aur nagar sunasaan pada hai
~ baqa balooch

????????????????????????????

दुनिया में हूँ दुनिया का तलबगार नहीं हूँ
बाज़ार से गुज़रा हूँ ख़रीदार नहीं हूँ
~ अकबर इलाहाबादी

duniya mein hoon duniya ka talabagaar nahin hoon
baazaar se guzara hoon khareedaar nahin hoon
~ akabar ilaahaabaadee

????????????????????????????

क्या भीड़ थी कल और आज देखा
सुनसान वो रास्ता पड़ा था
~ महशर बदायुनी

kya bheed thee kal aur aaj dekha
sunasaan vo raasta pada tha
~ mahashar badaayunee

????????????????????????????

हफ़ीज़’ अपनी बोली मोहब्बत की बोली
न उर्दू न हिन्दी न हिन्दोस्तानी
~ हफ़ीज़ जालंधरी

hafeez apanee bolee mohabbat kee bolee
na urdoo na hindee na hindostaanee
~ hafeez jaalandharee

????????????????????????????

जाग रही है सारी बस्ती
और गली सुनसान पड़ी है
हर पल छोटी होती दुनिया
पहले से अब बहुत बड़ी है
~ शाहीन ग़ाज़ीपुरी

jaag rahee hai saaree bastee
aur galee sunasaan padee hai
har pal chhotee hotee duniya
pahale se ab bahut badee hai
~ shaaheen gaazeepuree

 


ज़िन्दगी पर 10 सबसे बेहतरीन शायरी

TWO LINE SHAYARI | दो लाइन शायरी हिंदी में


 

You may also like