Home शायरीtarif shayari 51 सबसे बेहतरीन तारीफ शायरी | tarif shayari in hindi

51 सबसे बेहतरीन तारीफ शायरी | tarif shayari in hindi

by piyush Hindustani
tarif shayari

tarif shayari in hindi: तारीफ किसी भी रिश्ते की नींव होती है। अगर आप अपने प्यार की तारीफ करते है तो वह बहुत की खुश रहता है। तारीफ सुनना तो हर किसी को पसंद होता है और जब तारीफ सच्ची हो तो दिल को एक सुकून मिलता है। अपने चाहनेवालों की तारीफ करने के लिए लोग हिंदी तारीफ शायरी का खूब इस्तेमाल करते है। क्योकि तारीफ की शायरी की एक ख़ास बात यह होती है कि यह सीधे दिल पर असर करती है।

तारीफ शायरी किसी की खूबसूरती में चार चाँद लगा देती है और इसे सुनने वाला अपने आपको बहुत स्पेशल महसूस करने लगता है। आज हिंदी हैं हम आप सभी दोस्तों के लिए लाया है tarif shayari, tarif shayari in hindi और hindi tarif shayari का एक शानदार और दिल को छु लेने वाली 51 सबसे अच्छी तारीफ शायरी का कलेक्शन जो आप सभी को खूब पसंद आएगा।

 


tarif shayari

best tarif shayari

best tarif shayari


 

अब क्या लिखूं तेरी तारीफ में मेरे हमदम,
अलफ़ाज़ कम पड़ जाते है तेरी मासूमियत देखकर।

ab kya likhoon teree taareeph mein mere hamadam,
alafaaz kam pad jaate hai teree maasoomiyat dekhakar.

 


 

तुम्हारे गालों पर एक तिल का पहरा भी जरूरी है,
डर है की इस चहरे को किसी की नज़र न लग जाए।

tumhaare gaalon par ek til ka pahara bhee jarooree hai,
dar hai kee is chahare ko kisee kee nazar na lag jaye.

 


 

आसमां में एक अजीब खलबली मची हुई है,
लोग पूछ रहे हैं की ये ज़मीं पे कौन घूम रहा है,
एक चाँद सा खूबसूरत चेहरा लिए हुए।

aasamaan mein ek ajeeb khalabalee machee huee hai,
log poochh rahe hain kee ye zameen pe kaun ghoom raha hai,
ek chaand sa khoobasoorat chehara lie huye.

 


 

ख्वाहिश ये नहीं की मेरी तारीफ हर कोई करे,
बस कोशिश ये है की मुझे कोई बुरा न कहे।

khvaahish ye nahin kee meree taareeph har koee kare,
bas koshish ye hai kee mujhe koee bura na kahe.

 


 

हाय ये नज़ाकत ये शोखियाँ ये तकल्लुफ़, ये हुस्न,
कहीं तू मेरी शायरी का कोई हसीन लफ्ज़ तो नहीं।

haay ye nazaakat ye shokhiyaan ye takalluf, ye husn,
kaheen too meree shaayaree ka koee haseen laphz to nahin.

 


tarif shayari in hindi

tarif shayari in hindi

tarif shayari in hindi


 

मेरी आँखों को जब उनका दीदार हो जाता है,
दिन कोई भी हो मेरे लिए त्यौहार हो जाता है।

meree aankhon ko jab unaka deedaar ho jaata hai,
din koee bhee ho mere lie tyauhaar ho jaata hai.

 


 

तुम्हें अपनी पलकों पर बिठाने को जी चाहता है,
अब तो तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है,
खूबसूरती की जीती जगती मिसाल हो तुम,
तुम्हें अपनी ज़िन्दगी बनाने को जी चाहता है।

tumhen apanee palakon par bithaane ko jee chaahata hai,
ab to teree baahon se lipatane ko jee chaahata hai,
khoobasooratee kee jeetee jagatee misaal ho tum,
tumhen apanee zindagee banaane ko jee chaahata hai.

 


 

हम आज उसकी मासूमियत के कायल हो गए,
उसकी सिर्फ एक नजर से ही घायल हो गए।

ham aaj usakee maasoomiyat ke kaayal ho gae,
usakee sirph ek najar se hee ghaayal ho gae.

 


 

वो मुझसे रोज़ कहती थी मुझे तुम चाँद ला कर दो,
आज उन्हें एक आईना देकर अकेला छोड़ आया हूँ।

vo mujhase roz kahatee thee mujhe tum chaand la kar do,
aaj unhen ek aaeena dekar akela chhod aaya hoon.

 


 

इस सादगी पे कौन न मर जाए ऐ ख़ुदा,
लड़ते हैं और हाथ में तलवार भी नहीं।

is saadagee pe kaun na mar jae ai khuda,
ladate hain aur haath mein talavaar bhee nahin.

 


hindi tarif shayari

hindi tarif shayari

hindi tarif shayari


 

तुमको देखा तो मुझे मोहब्बत समझ में आयी,
वरना औरों से ही तुम्हारी तारीफ सुना करते थे।

tumako dekha to mujhe mohabbat samajh mein aayee,
varana auron se hee tumhaaree taareeph suna karate the.

 


 

गिरता जाता है चहरे से नकाब अहिस्ता-अहिस्ता,
निकलता आ रहा है आफ़ताब अहिस्ता-अहिस्ता।

girata jaata hai chahare se nakaab ahista-ahista,
nikalata aa raha hai aafataab ahista-ahista.

 


 

वो अपने चहरे में सौ आफताब रखते हैं,
इसलियें तो वो रूह पर भी नकाब रखते हैं,
वो पास बैठे हो तो आती हैं प्यार की खुशबू,
वो तो अपने होठो पर खिलते गुलाब रखते हैं।

vo apane chahare mein sau aaphataab rakhate hain,
isaliyen to vo rooh par bhee nakaab rakhate hain,
vo paas baithe ho to aatee hain pyaar kee khushaboo,
vo to apane hotho par khilate gulaab rakhate hain.

 


 

ममता की तारीफ न पूछिए साहब,
वक्त आने पर चिड़िया सांप से लड़ जाती है।

mamata kee taareeph na poochhie saahab,
vakt aane par chidiya saamp se lad jaatee hai.

 


 

इज़्ज़त और तारीफ़ मांगी नहीं जाती,
इसे ईमानदारी से कमाना पड़ता है।

izzat aur taareef maangee nahin jaatee,
ise eemaanadaaree se kamaana padata hai.

 


तारीफ शायरी

तारीफ शायरी

तारीफ शायरी


 

जब आप तारीफ की शायरी किसी को सुनाते या भेजते है तो बस आप ये ध्यान रखे की जब भी किसी की तारीफ करे तो सच्ची तारीफ करे नहीं तो आपके रिश्तो में दूरिया आ जाएँगी और आपको इसकी कीमत भी चुकानी पड़ सकती है। क्योकि तारीफ वाली शायरी कम शब्दों में बहुत कुछ कह जाती है। अब समझने वाले के ऊपर निर्भर है की वो इसका क्या मतलब निकालता है।

Here is hindi hain hum collection of tarif shayari, tarif shayari in hindi, hindi tarif shayari, tarif wali shayari, tarif ki shayari, khubsurti ki tareef shayari in hindi, khubsurti ki tareef shayari in urdu, husn ki tareef shayari in hindi and many more.

 

जरूर पढ़ें: आपके लिए खास

Top-51 प्यार की शायरी 

Top-100 बेस्ट शायरी फॉर गर्लफ्रेंड 

Top 51 एकतरफा प्यार शायरी 

Top-51 इंतज़ार शायरी 

TOP-50 रूठी हुई गर्लफ्रेंड को मनाने के लिए शायरी 

मिस यू शायरी

याद शायरी

VIDEO

मोहब्बत क्या है Gulzar shayari VIDEO